सोनू सूद ने कहा- टिकट भेज रहा हूं, दोनों पैरों से चलने का समय आ गया; अब आराम से स्‍कूल जा सकेगा नन्‍हा प्रशांत

बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद ने परिहार प्रखंड के मलहा टोल के सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले दूसरी कक्षा के छात्र प्रशांत कुमार की मदद की पहल की है। पिछले कई वर्षों से प्रशांत इस स्कूल में एक पैर के सहारे पढ़ने जाया करता है। प्रशांत का स्कूल उसके घर से करीब एक किलोमीटर दूर है।

बताया जाता है कि कुछ साल पहले डॉक्टरों की एक गलती से प्रशांत काे अपना एक पैर गंवाना पड़ गया। दरअसल, डॉक्‍टरों ने प्रशांत को गलत इंजेक्शन लगा दिया था, जिससे उसका पैर गल जाने के कारण आखिर में उसे काटकर हटाना पड़ा। पांव में परेशानी के चलते उसकी जिंदगी खतरे में पड़ गई थी। लिहाजा, पांव को काटकर अलग करना पड़ा। इस हादसे से न सिर्फ उसको एक पांव खोना पड़ा, बल्कि उसकी जिंदगी भी दुखदाई बन गई और इस बात को लेकर उसके स्वजन काफी चिंतित रहने लगे।

हालांकि, इस परिस्थिति के बावजूद प्रशांत ने हौसला नहीं छोड़ा और इसी हाल में उसने स्कूल जाना जारी रखा। सोनू सूद को प्रशांत के बारे में यह जानकारी मिली तो उन्होंने तुरंत मदद की पेशकश की। सोनू सूद ने प्रशांत का वायरल वीडियो देखकर अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर मदद की पेशकश की है। सोनू सूद ने ट्विटर पर लिखा, ”प्रशांत अब अपने एक नहीं दोनों पैरों पर कूदकर स्कूल जाएगा। टिकट भेज रहा हूं, चलिए दोनों पैरों पर चलने का समय आ गया।”

शिक्षिका प्रियंका कुमारी का कहना है कि अपना एक पैर गवाने के बावजूद प्रशांत ने न हौसला खोया न आगे बढ़ने की उम्मीद छोड़ी। वह रोज स्कूल आता है। प्रशांत अपने घर से स्कूल तक करीब एक किलोमीटर की दूरी तय करने के लिए लंबी कूद तकनीक का उपयोग करता है और वह भी पीठ पर स्कूल बैग के साथ। प्रशांत के परिवार के पास पैसे नहीं हैं। इसलिए वे उसका एक कृत्रिम पैर नहीं लगवा पा रहे हैं। पैर नहीं होने के कारण उसे हर रोज स्कूल जाने में दिक्कत तो होती है, लेकिन वह अपनी मंजिल तक पहुंचता है। प्रशांत हर रोज एक किलोमीटर तक ऐसे ही एक पैर पर कूदते हुए स्कूल जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *